मैं झूठ नहीं बोलना चाहता की मैंने दुनिया देख ली है

हमने पूरी दुनिया देखी है। कितना घूमोगे और क्या करोगे घूम कर। पैसे बचाना सीखो, आगे काम आयेगा।

ये सब अमूमन हर किसी ने कभी न कभी अपने माता पिता या बड़े बुजुर्गों से सुना ही होगा। मैं उनकी किसी बात से असहमत नहीं हूँ, पर ये भी तो जरूरी नहीं की हर बार वो ही सही हों।

  1. पहला, जो भी ये कहता है की उसने पूरी दुनिया देख ली, एक बार जरा सोच ले की वे कितना बड़ा झूठ बोल रहे है। ये हर किसी के बस की बात ही नहीं है। कईयों की जिंदगी निकाल जाती है पर वे भी पूरी दुनिया नहीं घूम पाते। पहले आप पूरा हिंदुस्तान तो घूम लो, फिर दुनिया की बात करना। मैंने अभी घूमना शुरू ही किया है और लग रहा है जैसे कितना कुछ है यहाँ देखने और सीखने को। एक जगह अगर दो बार गया तो उसे भी दो बार बिलकुल नए तरीके से पाया। अगर आपने घुना शुरू नहीं किया तो शुरू करो। क्योंकि इस दुनिया से बड़ा विद्यालय तुम्हें कही नहीं मिलेगा।

    Travel Quote

  2. पैसे बचाना सीखो, भाई अब इस पर मैं क्या बोलूँ। मैं भी चाहता हूँ की मेरे पास पैसे बचे पर मैं ये भी चाहता हूँ की मैं अपनी जिंदगी खुल कर जियूं। और भैया दोनों में से कोई एक ही चीज़ मुमकिन है यहाँ। या तो आप खुल कर अपनी जिंदगी जियोगे या फिर अपने सपनों को मार कर और दुनिया से कट कर पैसे बचाओगे।

अगर आपने जिंदगी जी तो आपको ये अफसोस न होगा की काश माने ये तब कर लिया होता, या काश मैंने ये कर लिया होता।

अगर आपने पैसे बचाए तो वो आपके तो किसी काम नहीं आने वाली हाँ हो सकता है की उस बचे हुए पैसे पर कोई और हक जाता ले और आप कुछ कह भी न पाएँ। या फिर जिस वजह या काम के लिए आपने पैसे बचाए उस वक्त के आने तक वो जमा किए पैसे भी कम पर जाए।

मुझे तो भाई पहला रास्ता ही पसंद है और मैं वही अपनाऊंगा। पैसे बचाने की भी कोशिश होगी पर वो सिर्फ इस लिए की अगला सफर मेरा किसी जगह का अच्छा हो।

ये मेरे निज़ी विचार है, और मैं किसी की भावनाओ को ठेश नहीं पहुंचाना चाहता। बस इस जिंदगी और लोगो को समझने की इस दुनिया की कक्षा में मेरा ये पहला सवाल और जवाब है।

Travel Quote

कल मैं गोवा के लिए निकाल रहा हूँ, आशा करता हूँ की मैं वहाँ जाम कर मस्ती कर पाऊँगा और बहुत कुछ सीखूँगा। क्योंकि, मैं झूठ नहीं बोलना चाहता की मैंने दुनिया देख ली है।


Leave a Reply

%d bloggers like this: