मैं झूठ नहीं बोलना चाहता की मैंने दुनिया देख ली है

हमने पूरी दुनिया देखी है। कितना घूमोगे और क्या करोगे घूम कर। पैसे बचाना सीखो, आगे काम आयेगा। ये सब अमूमन हर किसी ने कभी न कभी अपने माता पिता या बड़े बुजुर्गों से सुना ही होगा। मैं उनकी किसी बात से असहमत नहीं हूँ, पर ये भी तो जरूरी नहीं की हर बार वो […]


बांधवगढ़ के जंगलों का अदभूत सफर और उनसे ली गयी सीख

बांधवगढ़ के जंगलों के बारे में तो सब ने सुना होगा, मैंने भी सुना ही था। इसके बारे में विस्तार से जानना हो तो विकिपीडिया है ही। मैं तो बस यहाँ अपना अनुभव बाँटने आया हूँ। अभी मैं दुर्गा पूजा की छुट्टियाँ ख़त्म कर के ऑफिस आया ही था की अचानक पता चला शंकर सर […]


पटना पुलिस का यातायात नियम आम जनता के लिए

आज गाड़ी लेने के बाद पहली बार मुझ पे धरा 177 लगा है पर ठीक है गलती भी मेरी ही थी। मैंने हेलमेट जो नही पहना था। पर मैंने बड़ा ही अजीब चीज देखा या यूँ कहे की मैंने ये पहली बार अपनी आँखों से देखा। सुना तो कई बार था, पर कभी देखा नही था।


शिक्षक दिवस : एक दिन हमारे शिक्षकों के नाम

आज 5 सितम्बर का दिन है और आज पूरा हिंदुस्तान इस दिन को शिक्षक दिवस के रूप में मानता है। और ये बात लगभग सभी लोग जानते ही है की ये दिन हमारे डॉ. सर्वेपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है। उनके बारे में अब मैं क्या कहूँ मैंने उन्हें कभी नहीं […]


स्वतंत्रता दिवस की जलेबी और बारिश

14 अगस्त 2014 का दिन, यानी हिंदुस्तान के स्वतंत्रता दिवस के ठीक एक दिन पहले। मुझे उस रात सीतामढ़ि के लिए निकालना था। ऑफिस में तीन दिन की छुट्टी थी, 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस की छुट्टी तो थी ही साथ में शनिवार और रविवार छुट्टी भी तो थी। मुझे घर गए हुए 3 महीने […]